सोमवार, 14 मार्च 2016

वन रैंक वन पेंशन के तहत दो लाख से अधिक सैन्य पेंशनरों को संशोधित पेंशन लाभ जारी

कंट्रोलर जनरल ऑफ डिफेंस अकाउंट्स, रक्षा मंत्रालय के तहत काम करने वाले डिफेंस पेंशन डिस्बरसिंग ऑफिसेज (डीपीडीओएस) ने 2,21,224 सैन्य पेंशनरों को संशोधित पेंशन लाभ जारी किए। इन पेंशनरों में सेवा और अपगंता पेंशन लेने वाले सैन्य कर्मी शामिल हैं। इस पेंशन एरियर की पहली किस्त की राशि जारी कर दी गई है और इसे रक्षा मंत्रालय ने 01.03.2016 को पेंशनरों के खाते में जमा कर दिया है। डीपीडीओएस से पेंशन लेने वाले 1,46,335 पेंशनरों के मामले में भुगतान एरियर के साथ मार्च अंत तक जारी हो जाएगा। बैंक इस संशोधित काम को जारी रखे हुए हैं। रक्षा मंत्रालय ने वन रैंक वन पेंशन की अधिसूचना 07.11.2015 को जारी की थी। वन रैंक वन पेंशन के तहत (ओआरओपी) के तहत कुल अतिरिक्त वार्षिक वित्तीय राशि 7488.70 रुपये है। 1.7.2014 से लेकर 31.12.2015 की अवधि में एरियर के तौर पर 10925.11 करोड़ रुपये का भुगतान किया जाना है। ओआरओपी के तहत 7488.70 करोड़ रुपये की देनदारी है। इनमें से पीबीओर परिवार 6,405.59 करोड़ रुपये हासिल करेंगे। यह वन रैंक वन पेंशन के तहत दी जाने वाली राशि का 85.5 प्रतिशत है। रक्षा बजट में बढ़ोतरी की वजह से मौजूदा वित्त वर्ष 2015-16, में अतिरिक्त देनदारी बढ़ कर 4721.34 करोड़ रुपये हो गई है। इससे रक्षा पेंशन देनदारी 60,238 करोड़ रुपये से बढ़ कर 64,959.34 करोड़ रुपये हो जाएगी। ओआरओपी के संबंध में लागू किए जाने वाले आदेशों को विस्तार के साथ http://www.desw.gov.in/ पर देखा जा सकता है। इसमें 101 सारिणी में सभी रैंकों और श्रेणियों में पेंशनरों के संशोधित पेंशनों का ब्योरा है। इस आदेश के तहत पेंशन बांटने वाली एजेंसियों को निर्धारित कार्यक्रम के तहत पेंशन बांटने के आदेश दिए जा चुके हैं। पेंशन बांटने वाली एजेंसियों की सहूलियत के लिए प्रिसिंपल कंट्रोलर ऑफ डिफेंस अकाउंट्स (पी) ने 04.02.2016 को एक सर्कुलर जारी किया है। पेंशन लागू करने वाले निर्देश और सरकारी आदेश www.pcdapension.nic.in पर देखा जा सकता है।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

महिला अधिकार को लेकर कारगर कदम उठाने की ज़रुरत

  दुनिया के सबसे बड़े लोकतांत्रिक देश में महिलाओं की सामाजिक , आर्थिक और सांस्कृतिक आजादी को सुनिश्चित करने की दिशा में पुरजोर तरीके से ठोस ...